fbpx

Blog

वीर जवान जितेंद्र जलोदिया शहीद

अत्यंत दुखद खबर वीर जवान हवलदार जितेंद्र जलोदिया शहीद
जम्मू कश्मीर के सोपिया में आतंकियों से मुठभेड़ में देवास जिले के गांव धतुरिया का खाती समाज का वीर जवान हवलदार जितेंद्र जलोदिया शहीद…

परिवारजन – चंडीगढ रवाना।
पार्थिव देह कल पैत्रक गांव आने की संभावना। बुजुर्ग माता – पिता को घटना की जानकारी नही।

शहीद जितेंन जी को नमन।
में म .प्र.सरकार से अनुरोध करात हूं कि जिस प्रकार शिवराज सरकार में शहीद को एक करोड़ और सुविधाएं दी जाती थी ,उसी अनुसार जितेंन जी के परिवार की आर्थिक सहायता की जाये,क्योकि उनपर कई लोगो की जिम्मेदारी थी उनका निर्वाह करना आज कृतघ्न सरकार का दायित्व है।
और भाइयो ये कोई राजनितिक विषय नहीं है,जिन भी भाइयो की ऊपर तक पहुच हे वे इसे अग्रेषित करे।
और भाइयो मेरी पोस्ट को अन्यथा न ले,मेरा सीधा सा ही अनुरोध है।
शहादत की कोई कीमत नहीं हो सकती,वो अनमोल हे,
पर ये भी दायित्व हमारा हे की जितेंन जी के स्वजनों को उनकी कमी न खाले
पोस्ट के माध्यम से जीतू पटवारी ji se request निवेदन है कि वह सहयोग प्रदान करें
जय हिंद अमर शहीद श्री जितेन जलोदिया की शहादत को नमन करने श्री मनोज चौधरी जी विधायक हाटपिपलिया ने आज सुबह उनके गृह गांव धतुरिया में आकर उनको श्रद्धांजलि अर्पित की शत शत नमन

खाती समाज के मनोज चौधरी म.प के शिक्षा विभाग के समिति सदस्य बने

मनोज चौधरी खाती समाज के मनोज चौधरी म.प के शिक्षा विभाग के समिति सदस्य बने मप्र शिक्षा विभाग
परामर्श दात्री समिति सदस्य बने
अनिल धौसरिया हाटपीपल्या
हाटपीपल्या। मध्यप्रदेश स्कूली शिक्षा मंत्री डाक्टर प्रभुराम चौधरी द्वारा
विधायक मनोज चौधरी को शिक्षा विभाग परामर्श दात्री समिति का सदस्य
बनाये गया चौधरी की नियुक्ति पर पुर्व बीज
निगम अध्यक्ष शांतिलाल गामी ब्लांक अध्यक्ष
छगनलाल मिस्त्री शहर अध्यक्ष कन्हैया लाल
सोनी पुर्व नप अध्यक्ष शांतिलाल तंवर पार्षद
अशोक पटेल पुर्व जिला कांग्रेस महामंत्री
राजेश तंवर युवा कांग्रेस नेता बंशी तंवर पार्षद
शेलेन्द्र राजावत पार्षद भुजराम जाट पार्षद
हारून मंसूरी कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष राजेश
बिंजवा कपील तंवर विधायक प्रतिनिधि
राजेन्द्र सिंह सेंधव कवड़िया विधायक प्रतिनिधि जसमत सिंह सेंधव कैलोद
कमल पाटीदार सरपंच देहरिया साहू कन्हैया मिस्त्री युवा नेता श्याम
जमोड़िया नगर युवा कांग्रेस अध्यक्ष बंटी गरोठिया उपाध्यक्ष संदीप प्रजापत
आदी द्वारा चौधरी की नियुक्ति पर बधाई देते हुऐ शिक्षा मंत्री चौधरी का
आभार माना !

खाती समाज के मनोज चौधरी म.प के शिक्षा विभाग के समिति सदस्य बने

मध्य प्रदेश चुनाव 2018: हाटपिपल्‍या सीट पर कांग्रेस का कब्जा, मनोज चौधरी जीते

मध्य प्रदेश में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के बाद आज मतगणना पूरी हो चुकी है. हाटपिपल्‍या विधानसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के दीपक जोशी और कांग्रेस के मनोज चौधरी के बीच मुकाबला रहा. ताजा नतीजों में कैलाश जोशी ने जीत दर्ज की है.

फोटो- आजतकफोटो- आजतक
श्याम सुंदर गोयल

नई द‍िल्‍ली, 11 दिसंबर 2018, अपडेटेड 12 दिसंबर 2018 12:53 IST

मध्य प्रदेश में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के बाद आज मतगणना पूरी हो चुकी है. हाटपिपल्‍या विधानसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के दीपक कैलाश जोशी और कांग्रेस के मनोज नारायण चौधरी के बीच मुकाबला रहा. ताजा नतीजों में मनोज नारायण चौधरी ने जीत दर्ज की है.

हाटपिपल्‍या विधानसभा सीट में 2013 के चुनाव में दीपक कैलाश जोशी ने कांग्रेस के ठाकुर राजेन्द्र सिंह बघेल को 6175 वोटों के अंतर से हराया था.

खाती समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन 7 को……

 शुजालपुर | ग्राम अरनियाकलां में अखिल भारतीय चंद्रवंशी खाती समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन 7 मई को आयोजित होगा। … सामूहिक विवाह

शुजालपुर | ग्राम अरनियाकलां में अखिल भारतीय चंद्रवंशी खाती समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन 7 मई को आयोजित होगा। सामूहिक विवाह

इसमें सीहोर, आष्टा, कालापीपल, शुजालपुर, शाजापुर, पोलायकलां, तिलावद मैना, अरंडिया सहित विभिन्न गांव से समाज के युवक-युवतियों का विवाह समारोह होगा। इस दौरान गांव में कलश यात्रा निकाली जाएगी। समारोह गांव के गणेश मंदिर समिति द्वारा मंदिर परिसर में आयोजित किया जाएगा। समिति के रामचंद्र सोनानिया ने बताया कि समिति द्वारा पंजीयन किया जा रहा है। अक्षय तृतीय पर श्रीराम मांगलिक भवन चंद्रवंशी क्षत्रिय खाती समाज के सामूहिक विवाह समारोह में 79 जोड़े विवाह बंधन में बंधे। प्रातः से ही वर-वधु का पोलायकलां आना प्रारंभ हो गया। प्रातः 9ः00 सभी को ट्रैक्टर में बिठाकर सामूहिक रूप से जुलूस के रूप में नगर के प्रमुख मार्गों से निकाला गया।

जगह-जगह नगरवासियों ने स्वागत किया। इस दौरान आतिशबाजी, ढोल एवं डीजे के साथ श्रीराम मांगलिक भवन लाया गया। यहां विवाह संपन्ना हुए। अतिथियों ने लड़कियों को दान भी दिया। सामूहिक विवाह सम्मेलन में सभी नगरवासी व्यवस्था संभालते हैं। विवाह सम्मेलन के लिए मंगलवार सुबह से ही खाती समाज के लोग विभिन्न जिलों से कानड़ में एकत्र होंगे। इससे आगर सारंगपुर मार्ग पर नवीन बस स्टैंड से लेकर आगर रोड़ स्थित टंकी नाला तक वाहनों का भारी जमावड़ा होगा। विवाह स्थल आगर रोड स्थित दरबार कृषिफॉर्म पर सम्पन्न होगा। गर्मी से बचने के लिए यहाँ विशाल पांडाल बनाये गए है वही विशाल पेड़ पौधे भी लगे हुए है।  फिजूल खर्ची को रोकने के लिए जो पहल शुरू की गई थी, वह आज अन्य समाज व लोगों के लिए प्रेरणादायी है।

सामूहिक विवाह -khati samaj
खाती समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन 7 को-khati samaj

खाती समाज के गोत्र

खाती समाज के 105 गोत्र हे जिस से हम को पता लगता हे हमारे बेरु महाराज कहा हे

  • 1 भंवरसिया (Bhanvrasiya)
  • 2 बोर्दिया (Dordiya)
  • 3 गुन्घोडिया (Gunghodiya)
  • 4 ननधारिया (Kanodhariya)
  • 5 कण्ठगरिया (Kanthgariya)
  • 6 धनबरदाय (Dhanbardaya)
  • 7 अज्वास्य (Ajvasya)
  • 8 ननदिया (Nanodiya)
  • 9 बाघोदारया (Baghodaraya)
  • 10 ांसवारिया (Aansavariya)
  • 11 वजन्य देवाय (Vajenya-Devaya)
  • 12 चिक्लोद मान्य (Chiklod-Manya)
  • 13 मंगरोलिया (Mangroliya)
  • 14 किरतपुरिया (Kiratpuriya)
  • 15 सलोनाराय (Salonaraya)
  • 16 विरोट्या (Virotya)
  • 17 छिबड़िया (Chhibadiya)
  • 18 कुरंदनस्य (Kurandansya)
  • 19 संभत हेडिया (Sumbhat-Hediya)
  • 20 दलोंड्रिया (Dalodriya)
  • 21 इन्द्रिय (Indriya)
  • 22 विरोठिया (Virothiya)
  • 23 वरसखीरिया (Varaskhiriya)
  • 24 इच्छावरिया (Icchhavariya)
  • 25 आकासोदिया (Aakasodiya)
  • 26 ताजपुरिया (Tajpuriya)
  • 27 संदोरन्य (Sandoranya)
  • 28 उछोड़िया (Uchodiya)
  • 29 अलवण्या (Alvanya)
  • 30 देवतारया (Devtaraya)
  • 31 भैसोदिया (Bhaisodiya)
  • 32 मण्डलवड़िया (Mandalavdiya)
  • 33 गोळ्या (Golya)
  • 34 जगोठिया (Jagothiya)
  • 35 केलोडिया (Kelodiya)
  • 36 रुदड़िया (Rudadiya)
  • 37 पार्सवडिया (Parsavdiya)
  • 38 देवदालिया (Devdaliya)
  • 39 भादरिया (Bhaderiya)
  • 40 कनसिया (Kanasiya)
  • 41 बींजलिया (Binjaliya)
  • 42 सोठड़िया (Sothadiya)
  • 43 सवासिया (Savasiya)
  • 44 सोनानिया (Sonaniya)
  • 45 सूतिया (Soothiya)
  • 46 सिसोदिया (Sisodiya)
  • 47 शिवदासिया (Shivdasiya)
  • 48 सरोजिया (Sarojiya)
  • 49 सग्वलिया (Sagwaliya)
  • 50 रिनोदिया (Rinodiya)
  • 51 रणवासिया (Ranvasiya)
  • 52 भड़लावड़िया (Bhadlavdiya)
  • 53 भठुरिया (Bhathuriya)
  • 54 भैसरोदिया (Bhaisrodiya)
  • 55 भैसानिया (Bhaisaniya)
  • 56 भदोड़िया (Bhdodiya)
  • 57 भमोरिया (Bhamoriya)
  • 58 बिनरोटिया (Binrotiya)
  • 59 बीजलपुरिया (Bijalpuriya)
  • 60 बिलावलिया (Bilavliya)
  • 61 बडबडोदिया (Badbadodiya)
  • 62 सिरसोडिया (Sirsodiya)
  • 63 बबुलडिया (Babuldiya)
  • 64 बरनवाया (Baranvaya)
  • 65 बरनासिया (Barnasiya)
  • 66 पंचोरिया (Panchoriya)
  • 67 धनोरिया (Dhnoriya)
  • 68 देवथलिया (Devthliya)
  • 69 देथलिया (Dethliya)
  • 70 ठेंगलिया (Thengliya)
  • 71 तुमड़िया ,तोमर (Tumdiya,tomar)
  • 72 तंडिया (Tamdiya)
  • 73 तिलवडिया (Tilavdiya)
  • 74 ठीकरोडिया (Thikrodiya)
  • 75 डिंगरोडिया (Dingrodiya)
  • 76 झलवाया (Jhalvaya)
  • 77 जवारिया (Javariya)
  • 78 जमलिया ,जमले (Jamliya/Jamle)

  • 79 कामोठिया (Kaamothiya)
  • 80 जमगोड़िया (Jamgodiya)
  • 81 जलोदिया (Jalodiya)
  • 82 चौरसिया (Chourasiya)
  • 83 चंदवासिया (Chandvasiya)
  • 84 ग्वालिया (Gavaliya)
  • 85 गुरवादिया (Guravadiya)
  • 86 गिड़गिड़ाया (Gidgidaya)
  • 87 गिरितिया (Kiritiya)
  • 88 खिरबाड़ोदिया (Khirbadodiya)
  • 89 खचरोडिया (Khachrodiya)
  • 90 खरलीय (Kharaliya)
  • 91 खेवसिया (Khevasiya)
  • 92 खजुरिया (Khajuriya)
  • 93 केलिए (Keliya)
  • 94 कुलखंडिया (Kulkhandiya)
  • 95 कसया (Kasanya)
  • 96 करंजिया (Karanjiya)
  • 97 कसुन्दरिया (Kasundariya)
  • 98 कल्मोदिया (Kalmodiya)
  • 99 करनावडिया (Karnavdiya)
  • 100 उपलवड़िया (Uplavdiya)
  • 101 ितवदिया (Itavdiya)
  • 102 अकोलिया (Akoliya)
  • 103 अम्लवड़िया (Amlavdiya)
  • 104 अलेरिया (Aleriya)
  • 105 अजनावडिया(Ajnavdiya)

खाती समाज के हीरो

जीतू पटवारी

जितेन्द्र पटवारी (जन्म 19 नवंबर, 1973), जिन्हें जीतू पटवारी के रूप में भी जाना जाता है राऊ विधानशभा  के विधायक है। खाती समाज खाती समाज के हीरो

प्रारंभिक जीवन और शिक्षा

उन्होंने 1994 में बीए और 1997 में LLB की शिक्षा Devi Devi Ahilya Vishwavidyalayaसे पूर्ण की।[

राजनीतिक जीवन

2013 में वह राऊ विधानसभा से भारतीय कांग्रेस के विधान सभा के सदस्य चुने गए।

कानूनी मामलें

15 जनवरी, 2017 को पटवारी को उनके 60 समर्थकों के साथ, पानी के मुद्दों को लेकर किये गये सड़क नाकेबंदी के कारण गिरफ्तार किया गया था

जीतू जिराती-khati samaj
खाती समाज के हीरो khati samaj

जीतू जिराती

Jitu Jirati is an Indian politician and member of Bhartiya Janta Party. From 2008 to 2013, he was the Member of Legislative Assembly representing the Rau constituency in Madhya Pradesh.: August 8, 1976 (age 43 years), indore bJP

जीतू जिराती-khati samaj
खाती समाज के हीरो-khati samaj

मनोज चौधरी देवास

हाटपिपल्‍या विधानसभा देवास जिले की एक सामान्‍य वर्ग की सीट है. यह सीट लोकसभा क्षेत्र के देवास के अंतर्गत आती है. हाटपिपल्‍या विधानसभा सीट में कुल वोटरों की संख्या 186421 है.

हाटपिपल्‍या विधानसभा सीट में 186421 मतदाताओं ने अपने मतों का इस्तेमाल किया है जिसमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 96139 तो महिला मतदाताओं की संख्या 90277 थी. मध्य प्रदेश विधानसभा की 230 सीटों में से 35 सीट अनुसूचित जाति जबकि 47 सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं. 148  गैर-आरक्षित सीटें हैं. 2013 में हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने 165 सीटों पर जीत हासिल कर राज्य में लगातार तीसरी बार सरकार बनाई थी, जबकि कांग्रेस को 58 सीटों से ही संतोष करना पड़ा था. वहीं बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने 4 जबकि 3 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत हासिल की थी

खाती समाज धर्मशाला पुरे (म. प्र.) में

धर्मशाला हिमाचल प्रदेश की शीतकालीन राजधानी है। यह हिमाचल राज्य के कांगड़ा जिले का मुख्यालय है,खाती समाज धर्मशाला पुरे (म. प्र.) में और कांगड़ा नगर से १६ किमी की दूरी पर स्थित है। धर्मशाला खाती समाज के मैक्लॉडगंज उपनगर में केंद्रीय तिब्बती प्रशासन के मुख्यालय हैं, और इस कारण यह दलाई लामा का निवास स्थल तथा निर्वासित तिब्बती सरकार की राजधानी है। धर्मशाला को भारत सरकार के स्मार्ट सिटीज मिशन के अंतर्गत एक स्मार्ट नगर के रूप में विकसित होने वाले सौ भारतीय नगरों में से एक के रूप में भी चुना गया है।  ऐसी मान्यता है की नगर का नाम धर्मशाला शब्द से उत्पन्न हुआ है।

यह नगर वर्ष १८४९ में कांगड़ा में स्थित सैन्य छावनी के लिए अस्तित्व में आया। वर्ष १८५५ में धर्मशाला को कांगड़ा जिले का मुख्यालय घोषित किया गया था। धर्मशाला में सिविलियन और छावनी क्षेत्र की बढ़ती चहल-पहल को देखते हुए यहां सुविधाएं लोगों को मुहैया करवाने के लिए नगर परिषद बनाने का विचार बना था। पांच मई १८६७ को यहां नगर परिषद अस्तित्व में आई थी।  उस समय बनी नगर परिषद की पहली बैठक भी ६ मई १८६७ को तत्कालीन जिलाधीश सीएफ एल्फिनस्टोन की अध्यक्षता में हुई थी।

धर्मशाला के १८६७ में नगर परिषद बनने के बाद यहां सुविधाओं में इजाफा हुआ। १८९६ में धर्मशाला में बिजली भी लोगों मिलनी शुरू हुई थी। तत्पश्चात नगर में कार्यालयों के विकास के अतिरिक्त व्यापार व वाणिज्य, सार्वजनिक संस्थान, पर्यटन सुविधाओं तथा परिवहन गतिविधयों में भी उन्नति हई। वर्ष १९०५ व् १९८६ के भूकम्पों से नगर का बहुत नुकसान हुआ। १९२६ से १९४७ के बीच यहां पर इंटर कॉलेज सहित महाविद्यालय खुला तो वर्ष १९३५ में सिनेमा हाल भी यहां खुला। बढ़ते समय के साथ-साथ सामाजिक सुधारों के साथ संगीत, साहित्य और कला के क्षेत्र में भी यह क्षेत्र कहीं पीछे नहीं रहा। १९६० से महामिहम दलाई लामा का मुख्यालय भी धर्मशाला में स्थित है।

Scroll to top